Featured Post,  Poems,  Spiritual Wisdom

An Awesome Devotional Hindi Poem by Dr. Prerna Dadhich

द्वारा :- डॉ. प्रेरणा दाधीच (टोंक, राजस्थान )

शीर्षक :- मेरी प्रतीक्षा

विधि :- कविता

भक्ति रस में लिखी यह कविता मीरा बाई की याद दिलाती है। इतनी सूंदर प्रस्तुति के लिए प्रेरणा जी बधाई की पात्र हैं। काव्य शैली में प्रभु की महिमा गाने अथवा अपनी प्रीती और प्रभु मिलान की आस को भाव विभोर शब्दों की माला में पिरो कर प्रस्तुत करने से प्रभु स्वयं को आने से रोक नहीं पाते, बिलकुल वैसे ही जैसे की मीरा को श्याम ने कृतज्ञ किया था।

वर्ण प्रवण में गीत लिखा है।

मैनें जीवन मीत लिखा है।।

प्रीत के रस में उसे डुबाकर।

अपना जीवन जीत लिखा है।।

विरह तप्त मै जलता सोना।

मेरा हर वर्ण सत्य का लोहा।।

देखा-भोगा निज जीवन में।

वही बना तुम्हे गीत परोसा।।

किया जीवन का मैने संधान।

तन-मन बना मेरा अभिराम।।

करके तप यहाँ जीवन साधा।

नही रही कोई जीवन बाधा।।

तप्त हृदय यह बनी वेदिका।

होम श्वास का हर पल करती।।

अर्घ्य मै देती इन अश्रु बिंदु का।

पावन तन-मन को कर देती।।

मेरी प्रिय, प्रतीक्षा एक पूजा है।

उस पर यह प्रीत मेरी निष्ठा है।।

भले न आये वो प्रियतम प्यारा।

पर उसे समर्पित हर इच्छा है।।

किसे चाहिए मिलन वरदान?

मुझकों विरह से प्रीत महान।।

मैं इन सूने महलों की रानी।

अपने प्रियतम की प्रेम दीवानी।।

मेरा अभिहित उसको ध्याना।

ध्या कर उसमे लीन हो जाना।।

अरे नही मुझे निर्वाण चाहिए।

अब मुझे विरह में जलते जाना।।

Disclaimer:- इस वेबसाइट अथवा पत्रिका का उद्देश्य मनोरंजन के माध्यम से महिलाओं एवं लेखकों द्वारा लिखी रचनाओं को प्रोत्साहित करना है। यहाँ प्रस्तुत सभी रचनाएँ काल्पनिक हैं तथा किसी भी रचना का किसी भी व्यक्ति से कोई सम्बन्ध नहीं है। यदि कोई रचना किसी व्यक्ति के व्यक्तित्व, स्वभाव, उसकी स्थिति या उसके मन के भाव से मेल खाती हो तो उसे सिर्फ एक सयोंग ही समझा जाए। इसके अतिरिक्त प्रत्येक पोस्ट में व्यक्त गए लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं, यह जरूरी नहीं की वे विचार pearlsofwords.com या E-Magazine हर स्त्री एक “प्रेरणा” की सोच अथवा विचारों को प्रतिबिंबित करते हों। किसिस भी त्रुटि अथवा चूक के लिए लेखक स्वयं जिम्मेदार है pearlsofwords.com या E-Magazine हर स्त्री एक “प्रेरणा”की इसमें कोई ज़िम्मेदारी नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *