Blog,  E-Magazine,  Featured/ Cover Story,  Poems,  Thought of the Day

Mother’s Day Special Messages

ई-पत्रिका, हर स्त्री एक “प्रेरणा” के मंच पर हम हर त्यौहार बड़े उत्साह के साथ मनाते रहे हैं, ऐसे में स्त्री के सबसे पावन नाम ‘मां’ को भला कैसे भूल सकते हैं… प्रेरणा मैगजीन की सभी सम्मानित रचनाकार सखियां अपने भावनात्मक एवं सुंदर विचारों तथा छवियों के साथ मना रही हैं “मदर्स डे”… प्रस्तुत है हमारी सखियों की मां के साथ तथा उनकी अपनी संतान के साथ मदर्स डे पर यह खूबसूरत एवं पारिवारिक झलकियां।


मां तो बस मां होती है…
आज मैं अपनी बेटी को देखती हूं तो मॉं का मतलब समझ पाई।मॉं दुनिया में सबसे प्यारी देन है ,उस रब की बच्चे को नौ महीने पेट में पालना और ख़ुशी-ख़ुशी जन्म देने ,पर जो पीड़ा होती है , बच्चे को अपनी गोद में लेने पर सब छू मंतर हो जाती है।

मेरी मां मेरी दोस्त जैसी है । मेरी मां हमेशा मेरी और मेरी बहन की खुशी के बारे में सोचती है। उन्हें खाना बनाने का बहुत शौक है और वो अपना प्यार खाने के जरिए बैयां करती है। उनका यह शौक हम दोनो बच्चो में भी आ गया है और उन्हें देखते देखते हमने भी खाना बनाना सीख लिया है। मैं और मेरी बहन हमेशा अपनी मां को खुश और हस्ता देखना चाहते है। उनको मदर डे की ढेर सारी शुभकामना और बहुत बड़ा धन्यवाद उनके प्यार और ममता के लिए।
मेरी मां के लिए 💕
मुझ से सब कहते हैं
आप के हाथों में जादू है
आप इतना अच्छा खाना कैसे बना लेते हो
आप इतना कुछ कैसे कर लेते हो
मेरे हुनर के जादू की तारीफ तो सब करते हैं ,पर किसी ने यह नहीं पूछा कि यह सब आया कहां से ,किससे सीखा , पर आज मैं दुनिया को बताना चाहती हूं , मेरे हुनर का राज़ कोई और नहीं सिर्फ और सिर्फ मेरी मां है।
जो उम्र के ढलते हुए इस पड़ाव में भी
आज मुझ से ज्यादा काम कर लेती है
एक पकवान खाने की फरमाइश करने पर
पकवानों की लाइन लगा देती है।
उनके जज्बे को मेरा सलाम

माँ का मन मंदिर–
वात्सल्य प्रेम,नेह करूणा आँखों में लहराती है,तुमसे मिला ये जीवन मिली अमूल्य गुण थाती है।माँ तेरी गोद में बार बार जन्म मिले यही चाहत है,चरणों में तन-मन समर्पित, हमें मिलती राहत है।शांत सरल निर्मल हृदय, माँ मंदिर तेरा मन है,कोटि-कोटि नमन तुमको करते हम वंदन है।✍️सीमा गर्ग मंजरीमौलिक सृजनमेरठ कैंट उत्तर प्रदेश।

बेटियों की मां….
🌸बेटियों की मां कभी मरती नहीं, अमर हो जाया करती है,🌱वो नजर आती रहती है, अपनी बच्चियों की सूरत में,🌸रह जाती है मां की बातें, उन नन्हीं सी किलकारियों में,🌱छोड़ जाती है वो अपनी सोच, अपनी लाडलीयों के विचारों में,🌸दिखती रहती है मां कि छवि, उनकी चमकती सी आँखों में,🌱चाबियों के गुच्छों सी बंधी रहती है मां, बेटियों के संस्कारों में। ©Raman

मां के लिए मैं क्या लिख सकती हूं, मां के लिए सब शब्द भी कम पड़ जाएं,एक बेटी के लिए मां सब कुछ होतीं हैं, मां के बिना बेटियां बहुत रोतीं हैं,मां है तो हर दिन अच्छा है, मां नहीं है तो नहीं कुछ भी सच्चा है,बेटियां मां की परछाई होती हैं, मां अपना वजूद बेटी में देखतीं हैं,मां ही रब है, मां ही सब है, ये दुनिया मां के बिना अधूरी है,मां ही इस पूरे जगत की धूरी है, मेरी मां प्यारी मां…..हरदम याद आती मेरी मां,- मोना चंद्राकर
माना कि डाँटती है बहुत मम्मी
पर बहुत प्यार भी करती है मम्मी
सिखाती है मुझे मुश्किलों से लड़ना
हमेशा मेरा साथ देती है मम्मी
ईशिका चन्द्राकर
रायपुर छत्तीसगढ़

मां है आदि, मां है अनंत, मां ही धरती, मां ही आकाश, मां है अमृत कि वह बूंद जिसने दी मेरे अस्तित्व को पहचान… मां के बिना जीवन नहीं, मां के बिना जीवन जीने की कल्पना नहीं, मां हंसे तो जग हंसे, मां रोए तो जग रोए जिसके हंसने रोने से संसार हो प्रभावित वह मां है ईश्वर की अनुपम सौगात, मां का प्यार है उस संजीवनी बूटी के समान जिसके बिना जीवन का हर क्षण हर पल है बेकार मातृत्व दिवस के शुभ अवसर पर जिसके निश्चल प्यार दुलार अपनत्व की कोई सीमा नहीं उस मां के सम्मान में चंद पंक्तियां समर्पित… मयूरी गुप्ता

मैया मोरि मैं हूँ… तेरे आँगन की जगमगाती रोशनी! जीवन अपना प्रकाशित करने दो ना! स्वर्णिम छटा बनकर आसमां की! इस धरा पर बिखर जाने दो ना!!

आप के बाद हर घड़ी हमनेआप के बाद अब हर घड़ी हमने,मां खुद को संभाला और निखारा है।यूँ तो मन का एक कोना खाली हमेशा, आगे बढ़ने की तमन्नओं से उसे संवारा है ।टूट कर चुभती हैं यादें अब भी बहुत,फिर भी रोना ना कभी हमें गंवारा है।जुनूं है की आसमां से देखे जब आप,गर्व से कहे ये जिगर का टुकरा हमारा है।।आप के बाद हर घड़ी हमनें। – प्रेरणा

दिवस महान मन में विराजती माँकाव्य को सँवारती माँ, शब्द को निखारती माँ भरे विश्व-भावना। संग भाई-बहन हैं, सम स्नेह से पले हैं,त्याग-भाव में रहे हैं, भक्ति-भाव साधना। -डॉ. मीरा भारती मिश्रा, पुणे महाराष्ट्र

A Message from the adorable daughter of Kalpana Kaushik ji..
“Wishing a fantastic mother’s day to my creator. मां है तो सब है। you are everything and my whole universe. i am because of you, maa. thank you for everything always. I love you and miss you so much every day!! happy mother’s day mummy!!
the strongest, kindest, bravest, most beautiful, ultra talented and most loving mummy… you are the heart and soul of our family and the light that guides us every day thank you mummy for everything you do for us
Happy Mother’s Day maa…love you so so much

मेरा संदेश मेरी स्वर्गवासी माँ के लिए माँ आप चाहे मुझसे बहुत दूर चली गई हो लेकिन आप दूर हो कर भी मेरे बहुत करीब हो, आपकी मुस्कुराहट मेरे ख्यालों में आ कर मेरी ज़िन्दगी को महका देती है l – रेखा जोशी

” माँ “, तुमने सही कहा था ;” सबसे ज्यादा माँ ही जान पाती है संतान की प्रकृति, वही ढाल पाती है उसे सही साँचे में बिल्कुल उस कलाकार की तरह जो मिट्टी की प्रकृति समझकर उसे अलग- अलग कला कृतियों में स्नेह की थपकियों के साथ ढालता रहता है!”तुमने भी तो महान कथा शिल्पकार फणीश्वरनाथ ‘रेणु’ जी की कालजयी रचना ” मैला आँचल ” पढ़ने के बाद ही मेरा नामकरण किया था! शायद यही वजह थी कि साइंस पढ़ने के बाद भी मेरे अंदर साहित्य की ज्योति जलती रही! ” माँ ” तुम हमेशा हो मेरे साथ – तुम्हारी रेणु

From the early morning breakfast prepared just in time for school to the late night glass of milk for extra strong bones. The care and love you pour into everything is precious than any treasure.- Satyam and Siddhant

To My Loving n Caring Mumma,
प्रकृति की ईश्वर प्रदत्त अनुपम कृति है ‘माँ’,निःस्वार्थ स्नेह की प्रतिरूप है ‘माँ’,देती है हमें प्रतिपल सुख का आशीष,जग में ईश्वरतुल्य होती है ‘माँ’,मेरी खुशी, मेरी मुस्कान,मेरी छोटी-सी दुनिया है ‘माँ’,मेरा अस्तित्त्व, मेरा आज और कल,मेरा आने वाला हर पल है ‘माँ’,मेरे लिए सब कुछ, मेरी पहचान,मेरी जीवनरेखा है ‘माँ’ ।Happy Mother’s Day to my Loving Mumma
Love u so much Maa
Thank u for everything
From – Sonal

मदर्स डे, कितना प्यारा और सकून भरा शब्द है ये ! मानो बस माँ शब्द में समा गई हो दुनिया की तमाम खुशियाँ ,सृष्टि का आरंभ भी माँ और अंत भी माँ! इस खास दिन के लिए बस इतना ही कहना चाहूँगी’ उतार नहीं सकती माँ कर्ज तुम्हारा,तुम्हीं से है आबाद ये संसार मेरा, बनाये रखना आशीष अपना,नतमस्तक है ये बेटी तुम्हारी, तुम्हीं तो हो अभी अभिमान मेरा “

Mama, best friend, sister, scolder, secret kepper and what not. Actually my everything. Heartbeat,Naaaa, She is life. Whatever i m today it’s only bcoz she wants me to be here. For me the best compliment is u r junior Inderpreet… And i really want to be like u mama… Thank u for everything, for not giving up on me ever, to believe in me whatever what. Thank u for fighting for me, for giving me chances everytime. I won’t let u down … Thank u for everything mama … Happy mother’s day
My life begins with u mama. Thank u for being my sun. Inderpreet

जब कभी मेरा मन उदास होता है,तब तेरा चेहरा आसपास होता है,
तब मिलता है सुकून और विश्वास,माँ ! तेरे आशीर्वाद का अहसास होता है। -अंशुमाला विश्वकर्मा

2 Comments

  • Sajida Qureshi

    मदर्स-डे पर इतनी प्यारी-प्यारी अभिव्यक्ति पढ़ कर दिल भर आया ।आप सबका ई-मैग्जीन और सखियों का तहेदिल से शुक्रिया ❤️❤️❣️ और आप सबको
    **हार्दिक शुभकामनाएं मदर्स-डे की**

Leave a Reply

Your email address will not be published.