Self Motivational talks: Yaadon Ka Safar

अकेली अंधेरी रातों में अपने आप से जद्दोजहद करते हुए मैं यूंही कहीं यादों के सफर की ओर चली जा रही थी….आइए !आपको भी अपने साथ कुछ पल इन यादों की गलियों में घुमा कर लाती हूं। नीचे दिए इस वीडियो को सुनिए और कुछ लम्हों के लिए अपने आप को भूल कर बस यूं ही मेरे साथ फतेह सागर की लहरों में गुम हो जाइए। आपको भी तो यादों के काफिले यूंही अपनी ओर खींचते होंगे न, ये podcast आपको कैसा लगा नीचे comment box में ज़रूर लिखिएगा। अगली बार फिर मिलने के लिए अभी चलती हूं फिर एक नई कहानी एक नई जज्बात के साथ आपके सामने फिर हाजिर होंगे तब तक के लिए हंसते रहे मुस्कुराते रहे चाहे जो भी हो हौसलो को कम नहीं होने दे।